Monday, September 9, 2013

यह शरीर किसकी संपत्ति है ?

● यह शरीर किसकी संपत्ति है ? ● 
1- क्या उसकी जो इसका भरण -पोषण करता है ? 
 2- क्या उसकी जो अपना बीज देकर इसे पैदा किया है ?
 3- क्या उसकी जो इसे 09 माह अपनें गर्भमें रखी ? 
 4- क्या पत्नी/पतिकी जो इसका भोग करती/ करता है ?
 5- क्या नाना / नानीकी जो इसकी मूल हैं ? 
6- क्या उस अग्निकी जो इसे अंत में राख बना देती है ? 
 7- क्या उस धरतीकी जो इसके अस्तित्वको अपनें में मिला लेती है ? 
8- क्या उस प्रकृतिकी जिसमें यह रहता है ?
 9- क्या उस पशुकी जो इस आस में बैठा है कि कब मौका मिले और मैं उसे अपना भोजन बनाऊँ ? 
 10- क्या उस बंसजकी जो इससे हुआ है ?
 <> जी नहीं ---- 
°° यह शरीर माया निर्मित एक संकेत है जो उसे दिखानेंकी कोशिशमें अस्तित्वको खो देता है , जो इसमें रहता है ।
 °° यह शरीर एक माध्यम है , उस अब्यक्त अप्रमेय सनातन को समझननेंका जिससे यह है । 
°° यह एक ब्रिज है जो भोग -योगको सम्हालता है ।
 °° यह भक्त है उसका जो इसमें रहता है और जब वह निकलता है इसके बाहर, तब यह अपना अस्तित्त्व खो देता है ।
 ~~~ ॐ ~~~

No comments:

Post a Comment