Tuesday, February 8, 2011

इस देश की आवाज को

परम पवित्र भूमि -------
सत - युग से आज तक क्यों .......
सिसक रही है ?

कोई यहाँ की परम्पराओं को देखनें यहाँ आता है ........
कोई योग के आकर्षण में यहाँ आता है ......
कोई यहाँ के लोगों की धार्मिक श्रद्धा को देखनें के लिए यहाँ आता है ......
कोई यहाँ के गरीब लोगों को देखनें के लिए आता है .....
.कोई भिखारियों को देखनें के लिए यहाँ आता है ......
कोई इंजीनियर खोजनें के लिए यहाँ आता है ......
कोई खूबशूरत महिलाओं को देखनें के लिए यहाँ आता है .....
कोई यहाँ की भौगोलिक सुन्दरता को देखनें के लिए यहाँ आता है .....
लेकीन -----
साधू पुरुषों के उद्धार के लिए -------
अधर्म को समाप्त करनें के लिए -----
धर्म की स्थापना के लिए ------
पापियों को समाप्त करनें के लिए ----
प्रत्येक युग में प्रभु को भी यहाँ ......
निराकार रूप से साकार रूप में आना पड़ता है ॥

क्या कारण है की ----
भारत भूमि जो स्वर्ग जैसी है वहाँ पाप के बढनें की गति बहुत तेज है और .....
क्यों धर्म इतना कमजोर है की अधर्म जब चाहे तब इसे दबा लेता है ?

जितने अवतार भारत भूमि पर हुए हैं उतने अवतार पृथ्वी के
किसी और भाग में नहीं हुए , इसका भी तो कोई
कारण होगा ही ॥

हमें और आप को यहाँ सोचना है की ......
भारत भूमि पर हम सब क्यों अवतरित हुए हैं ?
हमें यह खोजना है की ......
हम हैं कौन ?
और इसकी पूरी जानकारी मिलती है .....
====== गीता में ========

No comments:

Post a Comment