Tuesday, March 29, 2011

चन्दन लगाना




चन्दन लगाना



चन्दन लगाना,हिदू परंपरा में एक विशेष स्थान रखता है|


जब भी कोई हिंदू प्रभु को याद करता है तब चन्दन के बिना यह संभव नहीं हो पाता ,

आखिर चन्दन लगाने का राज है , क्या ?

चन्दन लगाने के राज के सम्बन्ध में हम बाद में देखेंगे यहाँ इस सम्बन्ध में निम्न कुछ अहंम

बातों को पहले देखते हैं -----------


[]चन्दन के प्रकार


**चन्दन बृक्ष की लकडी;जो सफ़ेद या मैरून रंग कि हो सकती है

**हल्दी

**दही

**चावल

**जल

**मिटटी

**केसर

**शहद


सूफी परम्परा में लोबान और हिन्दू परपरा में चन्दन दोनों गंध आधारित माध्यम हैं जो

साधना को आगे बढनें में मदद करते हैं |


चन्दन का सम्बन्ध आज्ञा चक्र और सहस्त्रार चक्र से भी है लेकिन इन बातों को हम

आगे चल कर देखेंगे |

चन्दन लगाना एक साश्वत परम्परा है जो मनुष्य के स्मृति को प्रभु कि ओर रखता है |

अगले अंक में हम देखेंगे चन्दन और लोबान सम्बंधित कुछ और बातें



===== ओम ======


No comments:

Post a Comment